Vandana Singh Chauhan Ias Biography, Wikipedia, Age, Husband Name, Current Posting, Rank, Net Worth, Optional Subject

(Vandana Singh Chauhan Ias Biography, vandana singh ias age, vandana singh ias wikipedia, vandana singh ias optional subject, vandana chauhan ias current posting, vandana singh chauhan ias husband name)

Vandana Singh Chauhan Ias Biography – इस लेख में हम आईएएस वंदना सिंह चौहान का जीवन परिचय पढ़ने जा रहे है. आईएएस वंदना सिंह इन दिनों इन्टरनेट पर काफी छायी हुई रहती है. वंदना सिंह चौहान इस समय नैनीताल की जिला कलेक्टर है. अभी हाल ही में हुए हल्द्वानी हिंसा में वंदना सिंह ने अपनी अहम भूमिका निभाई जिसके कारण वह भी काफी चर्चा में है. इसके बारे में हम आगे चर्चा करेंगे तो आप हमारे साथ इस लेख में अंत तक बने रहिए.

आईएएस वंदना सिंह चौहान का जीवन परिचय (Vandana Singh Chauhan Ias Biography, Wikipedia, age, Net Worth, Current Posting, Rank)

नामवंदना सिंह चौहान
उपनाम
जन्मदिन4 अप्रैल 1988
उम्र35 साल
जन्मस्थाननसरुल्लागढ़ गांव, हरियाणा
पेशाभारतीय प्रशासनिक अधिकारी
वैवाहिक स्थितिविवाहित
राष्ट्रीयताभारतीय
धर्महिन्दू
नेट वर्थ
Vandana Singh Chauhan Ias Biography

आईएएस वंदना सिंह चौहान जीवनी (Vandana Singh Chauhan Ias Biography, age)

आईएएस वंदना सिंह चौहान का जन्म हरियाणा के नसरुल्लागढ़ गांव में 4 अप्रैल 1988 को हुआ था. इनके पिताजी किसान है तथा माताजी गृहणी का कार्य करती है इन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा अपने गांव के ही विद्यालय से की थी. 12वीं कक्षा के बाद इन्होंने ठान लिया था कि इनको आईएएस अधिकारी ही बना है. जिसके भी 5 दोनों ने दिन में 12 से 14 घंटे तक पढ़ाई करना शुरू किया वह भी बिना किसी कोचिंग के मतलब कि इन्होंने परीक्षा की तैयारी करने के लिए किसी कोचिंग को भी ज्वाइन नहीं किया था. आगे जानने के लिए आप हमारे साथ अंत तक बने रहिये.

यह भी पढ़े – आईएस कीर्ति जल्ली का जीवन परिचय

आईएएस वंदना सिंह चौहान शिक्षा (Vandana Singh Chauhan Ias education qualification)

इन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा अपने गांव के आर्य समाज द्वारा संचालित लड़कियों के आवासीय विद्यालय कन्या गुरुकुल भिवानी से की थी. वंदना सिंह बचपन से ही पढ़ने में काफी तेज थी. उनकी बचपन से ही सामाजिक कार्यों में गहरी रुचि रही है. स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद इन्होंने स्नातक की पढ़ाई भी आर अंबेडकर विश्वविद्यालय से की थी.

आईएएस वंदना सिंह चौहान का परिवार (Vandana Singh Chauhan Ias family)

वंदना सिंह एक अच्छे और विनम्र परिवार से संबंध रखती है. इनके पिताजी का नाम महिपाल सिंह चौहान है तथा उनकी माता जी का नाम अभी तक इन्होंने कहीं भी उल्लेख नहीं किया है लेकिन हम आपके शोध करके जल्द ही अपडेट करेंगे. इसके साथ ही परिवार में दो भाई और एक बहन है.

पिता का नाममहिपाल सिंह चौहान
माता का नामज्ञात नहीं
भाई-बहन2 भाई 1 बहन

आईएएस वंदना सिंह हाइट, वेट (Vandana Singh Chauhan Ias height, weight)

हाइट5 फिट 6 इंच
1.67 m
167 cm
वेट50-55 kg
आँखों का कलरकाला
बालों का कलरकाला
Vandana Singh Chauhan Ias Biography

आईएएस वंदना सिंह करियर, आईएएस रेंक (Vandana Singh Chauhan Ias career, ias rank)

वंदना सिंह ने स्नातक करने के बाद आईएएस की तैयारी करना शुरू कर दिया. साल 2012 में वंदना सिंह ने अपने पहले ही प्रयास में आठवीं रैंक हासिल की. इन्होंने सर्वप्रथम 2014 में उत्तराखंड के हरिद्वार में सहायक कलेक्टर के रूप में अपना काम संभाला था. इसके बाद में वंदना सिंह को रोकड़ी के एसडीएम पद पर तैनात किया. इस दौरान इन्होंने रुकडी स्मार्ट सिटी योजना, स्वच्छ भारत अभियान और डिजिटल इंडिया जैसी कई परियोजनाएं शुरू की.

2017 में इनकी पोस्टिंग उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में कर दी गई जहां पर इन्होंने अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट और मुख्य विकास अधिकारी के रूप में कार्यभार संभाला

नैनीताल के डीएम के रूप में (vandana singh chauhan dm nainital)

2019 में वंदना सिंह चौहान को भारत के सबसे पसंदीदा हिल स्टेशन नैनीताल में जिला मजिस्ट्रेट के रूप में नियुक्त किया था. इतिहास में इस जिले की यह पहली महिला है जिन्होंने इस पद पर काम संभाला.

इन्होंने इस जिले मैं सुधार लाने के लिए अपने कई प्रयास किये. लॉकडाउन के समय में जब कोविद-19 महामारी भयंकर तरीके से फैल रही थी उसे समय वंदना सिंह ने स्थानीय लोगों, प्रभावित लोगों, प्रवासी श्रमिकों, बुजुर्गों की काफी सहायता की. उन्होंने नैनीताल की संस्कृति, प्राकृतिक सुंदरता को मध्य नजर रखते हुए ’नैनीताल माय प्राइड’ अभियान को बढ़ावा दिया.

नैनीताल के हल्‍द्वानी में हिंसा के विरुद्ध उठाई आवाज

अभी हाल ही में 8 फरवरी 2024 को नैनीताल जिले के एक कस्बे हल्द्वानी में सांप्रदायिक हिंसा भड़की जिसमें इस वंदना सिंह की अहम भूमिका रही जिसके कारण वह अभी काफी सुर्खियों में है. इस हिंसक लड़ाई में दंगाइयों ने पुलिस अधिकारियों, अधिकारियों पर पत्थरों और बमों से आक्रामक हमला किया जिसके कारण दो लोगों की मौत हो गई और सैकड़ो लोग घायल भी हो गए तथा इसके अलावा दंगाइयों ने बनभूलपूरा थाने को भी नुकसान पहुंचा और गाड़ियों को आग में झोंक दिया.

Vandana Singh Chauhan Ias biography

इस प्रकार की स्थिति को काबू में लाने के लिए आईएएस वंदना सिंह ने 11 दिनों तक कर्फ्यू लगाया तथा 1200 से अधिक सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया. इस दौरान लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की ओर धीरे-धीरे इस हिंसक घटना पर काबू पाया. वंदना सिंह द्वारा संकट निपटने के लिए उनके साहस और परिश्रम की काफी प्रशंसा की गई. उत्तराखंड के राज्यपाल, मुख्यमंत्री, केंद्रीय गृहमंत्री से भी वंदना सिंह को काफी साराहना मिली.

आईएएस वंदना सिंह की उपलब्धियां (Vandana Singh Chauhan IAS awards and achievement)

वंदना सिंह के अच्छे कार्यों और उनके विकास को मध्य नजर रखते हुए उनको कई सारे अवार्ड भी मिले. इन्हे भारत गौरव पुरस्कार, उत्तराखंड रत्न पुरस्कार, नारी शक्ति पुरस्कार, यंग अचीवर पुरस्कार, से सम्मानित किया गया है तथा इसके साथ ही उन्हें दैनिक जागरण, हिंदुस्तान टाइम्स, इंडिया टुडे, आउटलुक जैसी विभिन्न पत्रिकाओं और समाचार पत्रों में भी दिखाया गया है. विभिन्न राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों में वंदना सिंह को आमंत्रित किया जाता है.

आईएएस वंदना सिंह नेट वर्थ (Vandana Singh Chauhan Ias net worth)

इस वंदना सिंह की नेटवर्क एक अनुमान के तौर पर 2.5 करोड रुपए है. हालांकि हमने उनकी नेटवर्क का अनुमान उनके वेतन और संपत्ति से लगाया है जबकि इन्होंने कभी भी सार्वजनिक रूप से अपनी संपत्ति के बारे में उल्लेख नहीं किया है. एक आईएएस अधिकारी का वेतन लगभग 56 हजार होता है.

Vandana Singh Chauhan Ias Biography

आईएएस वंदना सिंह पति, बच्चे (Vandana Singh Chauhan Ias husband, children)

वंदना सिंह शादीशुदा है उनके पति का नाम अमित चौहान है जो की बीच 2012 के ही आईएएस अधिकारी है. इन्होंने 4 साल एक दूसरे को डेट किया उसके पश्चात 2016 में इन्होंने शादी कर ली. पति अमित चौहान वर्तमान समय में उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड के सचिव के पद का कार्यभार संभाल रहे हैं. इनके एक बेटा भी है जो 2018 में हुआ था. दंपति अपने वैवाहिक जीवन से काफी खुश है.

इस वंदना सिंह के शौक और रुचि

इस वंदना सिंह नियमित व्यायाम और संतुलित आहार लेने के बारे में काफी ध्यान रखती है. इसके साथ ही वंदना सिंह को साइकिल चलाना योग ध्यान यात्रा करना फोटोग्राफी तथा पढ़ने आदि का शौक है. अगर पढ़ने में किताबों की बात की जाए तो उन्हें राजनीति इतिहास आध्यात्मिक जैसी विषयों के बारे में पढ़ना काफी पसंद है. वह अपनी निजी और सार्वजनिक जिंदगी के पलों को कमरे में कैद करना कभी नहीं बोलता है तथा लगातार तस्वीरों को अपने सोशल मीडिया एकाउंट्स पर अपलोड करती रहती है.

उम्मीद करता हु की Vandana Singh Chauhan Ias Biography लेख आपको अच्छा लगा होगा. एसे ही article पढ़ने के लिए आप हमारे ब्लॉग पर विजिट कर सकते है.

होम पेजयहाँ क्लिक करें

Leave a Reply